Tag: रबी की तेलहनी फसलें

  • रबी की तेलहनी फसलें

    कुसुम उन्नत प्रभेद : ए.-300, अक्षागिरी-59-2-1 जमीन की तैयारी : अगात धान काटने के तुरंत बाद दो-तीन जुताई करें एवं पाटा देना न भूलें। ऐसा करने से भूमि की नमी संरक्षित रहेगी। बुआई का समय : मध्य अक्टूबर से नवम्बर के प्रथम सप्ताह तक बुआई अवश्य कर डालें। अधिक ठंड पड़ने से अंकुरण पर बुरा […]